Mumps Home Remedies in Hindi: मम्प्स का घरेलू उपचार, गले के सूजन और दर्द को ना करें अनदेखा, करे ये घरेलू उपचार

Mumps Home Remedies in Hindi: मम्प्स यानि गलसुआ एक वायरल संक्रमण बीमारी है. जो अपने शरीर के पैरोटिड ग्रंथियों को प्रभावित करता है। यह एक लार ग्रंथि है जो अपने गाल के निचे और जबड़ों के पास होती है और यह लार बनाने का काम करती है। आज इस लेख में हम आपको इस बीमारी से जुडी सम्पूर्ण जानकारी और Galsua ke Liye Gharelu Upay भी बताने वाले है। जिसका इस्तेमाल कर आप इसे घर पर भी ठीक कर सकते है। तो दोस्तों इस लेख में हमरे साथ आखरी तक बने रहे।

WhatsApp Group Join Now
Telegram Group Join Now

Mumps Home Remedies in Hindi: मम्प्स (गलसुआ) क्या है?

दोस्तों, मम्प्स एक वायरल संक्रमण बीमारी है. जिसे गलसुआ और कंठमाला के नाम से भी सम्बोधित किया जाता है। मम्प्स वायरस अपने शरीर में लार के द्वारा फैलता है और पैरोटिड ग्रंथियों को प्रभावित करता है। जो अपने शरीर के दोनों तरफ के गाल और कानो के सामने स्तित होती है। बता दे, यह बीमारी ज्यादा तर बच्चो में देखने को मिलती है। मम्प्स वायरस के होने से पैरोटिड ग्रंथियों में यानि गालो के निचले हिस्से में सूजन आ जाती है जो कानों तक भी जा सकती है। जिससे खाना खाने में तकलीफ और बच्चो को सुनाई न देने का खतरा हो सकता है।

Mumps Home Remedies in Hindi
Mumps Home Remedies in Hindi

सिरदर्द, बुखार, मांसपेशियों में दर्द, भूख न लगना, थकान और लार ग्रंथियों में सूजन आना ये सब मम्प्स वायरस के लक्षण है। लेकिन यह संक्रमण होने के 15 से 20 दिनों के बाद सामने आते है। मम्प्स (गलसुआ) एक संक्रामक बीमारी जो छींक, लार, थूक या फिर छून से एक व्यक्ति से दूसरे व्यक्ति में फैलती है। यह कोई गंभीर बीमारी नहीं है, लेकिन इसपे ध्यान न देना आपको तकलीफ में दाल सकता है। क्योंकि इसके वजह से गलो में दर्द और खाना खाने में तकलीफ होती है। मम्प्स यानि गलसुआ बीमारी के लिए कोई विशेष उपचार नहीं है। लेकिन आप इसे डॉक्टर के इलाज से और अपने घरेलु उपाय से जल्दी से ठीक कर सकते है। तो चलिए Home Remedies for Galsua in Hindi पे एक नजर डालते है।

WhatsApp Group Join Now
Telegram Group Join Now

यह भी पढ़े- अच्छे स्वास्थ्य के लिए 10 Well Health Tips in Hindi: अपनाएं ये आदतें

गलसुआ का घरेलू उपचार – Mumps Home Remedies in Hindi

घर पर आसानी से मिलने वाली कुछ चीजों का इस्तेमाल कर आप गलसुआ को घर पर ही ठीक कर सकते है।

हल्दी, शहद, अरंडी तेल और एलोवेरा का लगाए लेप

अजवाइन और सरसों के तेल का लेप

बेल के पत्ते और लौंग का लेप

आकड़े के पत्ते से करे सिकाई

नमक और गर्म पानी

निम्बू और गर्म पानी

नमक से करे सिकाई

Home Remedies for Galsua in Hindi
Mumps Home Remedies in Hindi

हल्दी, शहद, अरंडी तेल और एलोवेरा का लगाए लेप

दोस्तों अगर आपको या फिर आपके बच्चो को यह मम्प्स संक्रमण हुआ है। तो आप इसे घरेलु उपचार के मदत से टिक कर सकते है। जिसके लिए आपको हल्दी, शहद, अरंडी तेल और एलोवेरा जेल को समान मात्रा में लेकर उसका पेस्ट बनाना है। फिर उसे हल्का गुनगुना यानि तोडा गरम कर संक्रमण हुई जगा पर लगाना है। या फिर आप इस लेप से उस जगाह पर मालिश भी कर सकते है। और इस बीमारी को जल्दी से ठीक कर सकते है।

Galsua ke Liye Gharelu Upay
Galsua ke Liye Gharelu Upay

अजवाइन और सरसों के तेल का लेप

गलसुआ से छुटकारा पाना के लिए आप अजवाइन और सरसों का तेल का इस्तेमाल कर सकते है। इसके लिए आपको 1 चम्मस सरसो के तेल में थोड़े से अजवाइन को मिला कर हल्का गर्म करना है और संक्रमित जगा पर दिन में दो बार लगाना है। ये उपाय भी आपके लिए कारगर साबित हो सकता है।

Galsua Home Remedies
Galsua Home Remedies

बेल के पत्ते और लौंग का लेप

दोस्तों आपको 5-6 लौंग के दानो को और बेल के पत्तो को सिलबट्टे पे पीस लेना है और इसे मिला कर मम्प्स वाले जगह पर दिन में दो से तीन बार अच्छे से लगाना है। इस उपाय से आपको जल्द ही गलसुआ से राहत मिलेगी।

आकड़े के पत्ते से करे सिकाई

मदार जिसे आक, अर्क और अकौआ भी कहते है। आपको उसका एक पत्ता लेना है फिर उसे गैस या फिर तवे का इस्तेमाल कर हल्का सा गरम करके संक्रमित जगा पर लगा के थोड़ा सेकना है। जिसमे आपको ठीक होने में मदत मिलेगी।

Mumps Home Remedies in Hindi
Mumps Home Remedies in Hindi

नमक और गर्म पानी

दोस्तों, नमक और गर्म पानी का ये घरेलु इलाज आपके लिए सबसे आसान हो सकता है। इसक करने के लिए आपको एक ग्लास पानी में थोड़ा नमक दाल कर उसे हल्का गुनगुना गर्म करना पड़ेगा। उसके बाद आप मम्प्स वायरस से संक्रमित हुई जगा पर दिन में 2-3 बार इस पानी से सिकाई करनी पड़ेगी। जिससे आपको जल्द राहत मिलेगी।

निम्बू और गर्म पानी

एक ग्लास गर्म पानी में निम्बू का रास मिला कर पिने से भी आपको लाभ मिल सकता है। क्योकि निम्बू में विटामिन सी पाया जाता है जो मम्प्स वायरस से लड़ने में आपकी मदत करता है।

Mumps Home Remedies in Hindi
Mumps Home Remedies in Hindi

नमक से करे सिकाई

एक छोटे कपडे में थोड़े से नामक को बांध ले और उसे हल्कासा गर्म कर गलसुआ से प्रभावित हुए हिस्‍से पर सिकाई करे। ऐसा करने से आपको इस बीमारी से जल्दी छुटकारा मिलेगा।

Related FAQs

प्रश्न: गलसुआ से कैसे खुद को बचाएं?

उत्तर: गलसुआ एक संक्रामक बीमारी है जो एक इंसान से दूसरे को हो सकती है। मम्प्स वायरस यानि गलसुआ से खुद को बचने के लिए। जो भी व्यक्ति इस वायरस संक्रमित है उसे 7 दिनों तक आइसोलेट रखें। उसके चेहरे, नाक, आंख और मुंह को बार बार न छुएं।

प्रश्न: गलसुआ कितने दिन में ठीक होता है?

उत्तर: गलसुआ जानलेवा बीमारी नहीं है। यह बीमारी 5-6 दिनों में अपने आप ही ठीक हो जाती है।

प्रश्न: गलसुआ किसके द्वारा फैलता है?

उत्तर: गलसुल एक संक्रमण बीमारी जो छींक, लार, थूक या फिर छून से एक व्यक्ति से दूसरे व्यक्ति में फैलती है।

प्रश्न: क्या हैं मम्प्स के संक्रमण के लक्षण और इसका उपचार?

उत्तर: मम्प्स के संक्रमण के लक्षण में गले में सूजन, बुखार, सिरदर्द, और थकान शामिल हो सकते हैं। इसका उपचार डॉक्टर द्वारा दी जाने वाली दवाओं के साथ साथ आराम और घरेलू उपचारों के मदत से भी किया जा सकता है।

हेल्थ से जुड़े घरेलू नुस्खों के जानकारी के लिए हमारे व्हाट्सएप ग्रुप और टेलीग्राम चैनल से जुड़े ताकि ऐसे ही अपडेट आप तक सबसे पहले पहुंचे।

WhatsApp Group Join Now
Telegram Group Join Now
Instagram Group Join Now

Leave a comment